Author Topic: सदाबहार हिन्दी गाने  (Read 39850 times)

Offline गायत्री

  • Major General
  • *
  • Posts: 1,028
  • Karma: 33
  • Gender: Male
  • "आज जाने कि जिद न करो यूहीं पहलू में बेठे रहो"
Re: सदाबहार हिन्दी गाने
« Reply #15 on: July 31, 2008, 12:08:29 PM »

 ;D ;D :jarksaber:
यहा से आघे तुम पर छोड दिया है
आगे कौन बोलेगा कविता या और कोही


सावन के झुलो ने मुझको बुलाया
मै परदेशी घर वापस आया

Offline गायत्री

  • Major General
  • *
  • Posts: 1,028
  • Karma: 33
  • Gender: Male
  • "आज जाने कि जिद न करो यूहीं पहलू में बेठे रहो"
Re: सदाबहार हिन्दी गाने
« Reply #16 on: July 31, 2008, 12:10:05 PM »
मुझे तो गाना आता ही नही, हा हा हा हा हा हा

Offline sunder singh negi

  • Brigadier
  • *
  • Posts: 861
  • Karma: 25
  • Gender: Male
  • दिल्ली आकर गाँव जाने का ख़ूब जी करता है
Re: सदाबहार हिन्दी गाने
« Reply #17 on: July 31, 2008, 12:17:29 PM »
यहा गाना नही है लिखना है
मुझे तो गाना आता ही नही, हा हा हा हा हा हा
तेरे बिना जिन्दगी से कोई सिकवा नही
तेरे बिना जिन्दगी भी लेकिन कोई जिन्दगी नही

सुनदर एस नेगी

Offline गायत्री

  • Major General
  • *
  • Posts: 1,028
  • Karma: 33
  • Gender: Male
  • "आज जाने कि जिद न करो यूहीं पहलू में बेठे रहो"
Re: सदाबहार हिन्दी गाने
« Reply #18 on: July 31, 2008, 12:23:38 PM »
उमड़ते-गरजते चले आ रहे घन
घिरा व्योम सारा कि बहता प्रभंजन,

अंधेरी उभरती अवनि पर निशा-सी
घटाएँ सुहानी उड़ी दे निमंत्रण!

कि बरसो जलद रे जलन पर निरन्तर
तपी और झुलसी विजन भूमि दिन भर,

आगे आप.............


Offline sunder singh negi

  • Brigadier
  • *
  • Posts: 861
  • Karma: 25
  • Gender: Male
  • दिल्ली आकर गाँव जाने का ख़ूब जी करता है
Re: सदाबहार हिन्दी गाने
« Reply #19 on: July 31, 2008, 12:28:43 PM »
रंग भरे बादल से
तेरे मेरे नैनो के काजल से
इस दिल पर लिख दिया तेरा नाम
ओ चाँदनी ओ चाँदनी

लल लल लल ला न ओ चाँदनी ओ चाँदनी
आगे आप.............
तेरे बिना जिन्दगी से कोई सिकवा नही
तेरे बिना जिन्दगी भी लेकिन कोई जिन्दगी नही

सुनदर एस नेगी

Offline जगमोहन सिंह जयाड़ा "ज़िज्ञासु"

  • Brigadier
  • *
  • Posts: 565
  • Karma: 72
  • Gender: Male
  • देवभूमि उत्तराखण्ड को देखूँ, उड़कर अनंत आकाश से...
Re: सदाबहार हिन्दी गाने
« Reply #20 on: July 31, 2008, 12:46:22 PM »
ये लीजिये कुछ गाने direct दिल से

अहसान तेरा होगा मुझपर
दिल चाहता है वो कहने दो
मुझे तुमसे मोहब्बत हो गयी है
मुझे पलकों की छाँव में रहने दो
अहसान तेरा होगा मुझ पर ...

तुमने मुझको हँसना सिखाया
रोने कहोगे रो लेंगे अब
आंशु का हमारे गम न करो
वो बहते हैं तो बहने दो

मुझे तुमसे मोहब्बत हो गयी है
मुझे पलकों की छाओं में रहने दो
अहसान तेरा होगा मुझपर ...

चाहे बना दो ... चाहे मिटा दो
मर भी गए तो देंगे दुवाएँ
उड़ उड़ के कहेगी ख़ाक सनम
ये दरदे मोहब्बत सहने दो
मुझे तुमसे मोहब्बत हो गयी है
मुझे पलकों की छाँव में रहने दो
अहसान तेरा होगा मुझपर ...

"जिग्यांसू" की कलम से हिन्दी गीत का गढ़वाली रूपांतरण, अच्छा लगे तो प्रतिक्रिया जरूर भेजें:

      "एहसान तेरु होलु मैं फर"

एहसान तेरु होलु मैं फर,
दिल जू चाणु छ बोलण देवा,
मैकू मोहब्बत ह्वेगी तुम सी,
मैकू पल्कु छावं मा रण देवा,
एहसान तेरु होलू मैं फर.....

तुमन मैकु हैन्संणु सिखाई,
रोण कू बोलल्या रवै द्योलु अब,
मेरा आंसू कू गम न करा,
बग्णा छन त बगण देवा.

मैकू मोहब्बत ह्वेगी तुम सी,
मैकू पल्कु छावं मा रण देवा,
एहसान तेरु होलू मैं फर.....

चा बणै देवा, चा मिटै देवा, 
मरी भी जौला त द्वोला दुआ,
उड़ि उड़िक बोललु खारू सनम,
यू मोहब्बत कू दर्द सहण द्या....

जगमोहन सिंह जयाड़ा, जिग्यांसू
३१.७.२००८ को रचित     
 

               
कितनी सुन्दर देव-भूमि, देखूं उड़कर आकाश से, नदी पर्वतों को निहारूं,जाकर बिल्कुल पास से...रचना: जगमोहन सिंह जयाड़ा "जिज्ञासु"

Offline b_s_bisht

  • Sepoy
  • *
  • Posts: 0
  • Karma: 1
Re: सदाबहार हिन्दी गाने
« Reply #21 on: September 27, 2008, 12:16:33 PM »
सदाबहार हिन्दीगाने
ग़म की दवा तो प्यार है ग़म की दवा शराब नहीं
ठुकराओ ना हमारा प्यार इतने तो हम ख़राब नहीं
ग़म की दवा तो प्यार है..
जाता है जो जाने दो, आता है वो आने दो
बगिया में फूल हजारों हैं, एक हि तो गुलाब नहीं
ग़म की दवा तो प्यार है...

घाव जिया के भर देंगे, टूटा दिल हम जोड़ेंगे
बन के रहेंगे साथी हम, साथ कभी ना छोड़ेंगे
अब कोई तुमको सता सके
इतनी किसी में ताब नहीं
ग़म की दवा तो प्यार है

फिल्मः अमानुष
गायिकाः लता मंगेशकर

Offline b_s_bisht

  • Sepoy
  • *
  • Posts: 0
  • Karma: 1
Re: सदाबहार हिन्दी गाने
« Reply #22 on: September 28, 2008, 11:51:36 AM »
कहाँ चला ऐ मेरे जोगी, जीवन से तू हार के
किसी एक दिल के कारण, यूँ सारी दुनिया त्याग के

छोड़ दे सारि दुनिया किसी के लिए, ये मुनासिब नहीं आदमी के लिए
प्यार से भी ज्ररूरी कई काम हैं, प्यार सबकुछ नहीं जिन्दगी के लिए...

तन से तन का मिलन हो न पाया तो क्या, मन से मन का मिलन कोई कम तो नहीं
खुशबू आती रहे दूर ही से सही, सामने हो चमन कोई कम तो नहीं
चाँद मिलता नहीं सबको संसार में, है दिया ही बहुत रौशनी के लिए....

कितनी हशरत से तकती ये कलियाँ तुम्हें, क्यों बहारों को फिर से बुलाते नहीं
एक दुनियाँ उजड़ ही गयी है तो क्या, दूसरा तुम जहाँ क्यों बसाते नहीं
दिल न चाहे भी तो साथ संसार के, चलना पड़ता है सबकी खुशी के लिए...
छोड़ दे सारि दुनिया......

गायिकाः लता मंगेशकर
गीतकारः इंदीवर
संगीतकारः कल्याणजी आनन्दजी
फिल्मः सरस्वतीचंद्र (1968)

Offline vivekpatwal

  • General
  • *
  • Posts: 8,563
  • Karma: 203
  • Gender: Male
  • JAI UTTARAKHAND, JAI BHARAT.
Re: सदाबहार हिन्दी गाने
« Reply #23 on: September 28, 2008, 12:04:38 PM »
wah bisht ji,ati sunder,  :)
lagta hai geeto ka bahut shauk hai aapko,  :hello2: :hello2:
Vivek Patwal
Ph: 9811511501
Insurance Advisor

Offline b_s_bisht

  • Sepoy
  • *
  • Posts: 0
  • Karma: 1
Re: सदाबहार हिन्दी गाने
« Reply #24 on: September 29, 2008, 10:50:25 AM »
धन्यवाद विवेक जी,
              अगर कभी आप किसी तनाव में हों तो कोई प्यारा सा गाना गुनगुनाना सुरू कर दीजिए
बस थोड़ी ही देर में आप अपने को तनावमुक्त पायेंगे, ऐसा है भारतीय संगीत का जादू ।
कभी आज़मा के तो देखिये....

Offline Bikram

  • Sepoy
  • *
  • Posts: 2
  • Karma: 0
Re: सदाबहार हिन्दी गाने
« Reply #25 on: December 13, 2008, 01:38:31 AM »
wow ................ nice .....................song

Offline dr_sat

  • Subedar Major
  • *
  • Posts: 48
  • Karma: 2
  • Gender: Male
Re: सदाबहार हिन्दी गाने
« Reply #26 on: March 03, 2009, 04:07:38 PM »
Honton se chhoo lo tum
Mera geet amar kar do
Ban jaao meet mere
Meri preet amar kar do
Honton se chhoo lo tum
Mera geet amar kar do
Na umr ki seema ho
Na janm ka ho bandhan
Jab pyaar kare koi
To dekhe keval mann
Nayi reet chalaakar tum
Yeh reet amar kar do
Aakaash ka soonapan
Mere tanha mann mein
Paayal chhankaati tum
Aa jaao jeevan mein
Saansein dekar apni
Sangeet amar kar do
Sangeet amar kar do
Mera geet amar kar do
Jag ne chheena mujhse
Mujhe jo bhi laga pyaara
Sab jeeta kiye mujhse
Main har dam hi haara
Tum haarke dil apna
Meri jeet amar kar do
Honton se chhoo lo tum
Mera geet amar kar do

होंठों से छू लो तुम मेरा गीत अमर कर दो,
बन जाओ मीत मेरे, मेरी प्रीत अमर कर दो.

न उम्र की सीमा हो, ना जन्मों का हो बंधन
जब प्यार करे कोई तो देखे केवल मन ,
नयी रीत चलाकर तुम ये रीत अमर कर दो

आकाश का सुनापन मेरे तन्हा मन में,
पायल जनकाती तुम आ जाओ जीवन में
साँसे देकर अपनी संगीत अमर कर दो
संगीत अमर कर दो मेरा गीत अमर कर दो.

जग ने छीना मुज से, मुझे जो भी लगा प्यारा
सब जीता किये मुज से, में हर पल ही हारा
तुम हार के दिल अपना, मेरी जीत अमर कर दो


Movie : Prem Geet (1981)
Artiste & Music : Jagjit Singh
Lyrics : Indivar
समस्त आस्तित्व को धन्यवाद!

Offline dr_sat

  • Subedar Major
  • *
  • Posts: 48
  • Karma: 2
  • Gender: Male
Re: सदाबहार हिन्दी गाने
« Reply #27 on: March 03, 2009, 04:09:33 PM »
English translation:

1.
Hothhon se chhu lo tum meraa geet amar kar do,
ban jaao meet mere, meri preet amar kar do.

[touch my song with your lips, make it immortal,
be my beloved, make my love immortal]

2.
Na umr kee seemaa ho, naa janmon kaa ho bandhan
jab pyaar kare koi to dekhe kewal maan,
nayee reet chalaakar tum ye reet amar kar do

[No restriction of age, not the bond of lives,
when someone love should see only the soul,
by carving new trend, make the trend immortal]

3.
Aakaash kaa sunapan mere tanaha man me,
paayal zanakaatee tum aa jaao jeewan me
saanse dekar apani sangeet amar kar do.
sangeet amar kar do mera geet amar kar do.

[Loneliness of the sky is in my lone heart,
with rattleing paayal enter into my life,
by giving own breaths make the music immortal
make the music immortal, make my song immortal]

4.
Jag ne chhinaa muz se, muze jo bhee lagaa pyaaraa
sab jeetaa kiye muz se, main har pal hee haaraa
tum haar ke dil apanaa, meree jeet amar kar do

[World snatched from me, whatever was beloved to me,
all won from me, I lost at every moment,
by losing your heart you make my victory immortal]
समस्त आस्तित्व को धन्यवाद!

Offline upstone

  • Lance Naik
  • *
  • Posts: 4
  • Karma: 0
  • Gender: Male
Re: सदाबहार हिन्दी गाने
« Reply #28 on: March 03, 2009, 04:42:57 PM »
Ye Naa Thii Hamaarii Qismat
Ke Visaaleyaar Hotaa
Agar Aur Jiite Rahate
Yahii I.Ntazaar Hotaa
Tere Vaade Par Jiye Ham
To Ye Jaan Jhuuth Jaanaa
Ke Khushii Se Mar Na Jaate
Agar Aitabaar Hotaa
Terii Naazukii Se Jaanaa Ke
Ba.Ndhaa Thaa Ahad Buudaa
Kabhii Tuu Na To.D Sakataa
Agar Usatavaar Hotaa
Koii Mere Dil Se Puuchhe
Tere Tiireniim Kash Ko
Ye Khalish Kahaa.N Se Hotii
Jo Jigar Ke Paar Hotaa
Ye Kahaa.N Kii Dostii Hai
Ke Bane Hai.N Dost Naaseh
Koii Chaaraa Saaz Hotaa
Koii Gam Gusaar Hotaa
Ragesa.Ng Se Tapakataa
Vo Lahuu Ke Phir Na Thamataa
Jise Gam Samajh Rahe Ho
Ye Agar Sharaar Hotaa
Gam Agarche Jaa.N Gusal Hai
Par Kahaa.N Bachai.N Ke Dil Hai
Gameishq Gar Na Hotaa
Gamerozagaar Hotaa
Kahuu.N Kis Se Mai.N Ke Kiyaa Hai
Shabegam Burii Balaa Hai
Mujhe Kiyaa Buraa Thaa
Maran Agar Aik Baar Hotaa
Hue Mar Ke Ham Jo Rusavaa
Hue Kyuu.N Na Gharqedarayaa
Na Kabhii Janaazaa Uthataa
Na Kahii.N Mazaar Hotaa
Use Kaun Dekh Sakataa Ke
Yagaanaa He Vo Yakataa
Jo Duii Kii Buu Bhii Hotii
To Kahii.N Do Chaar Hotaa
Ye Masaaeletasavvuf
Ye Teraa Bean, Gaalib
Tujhe Ham Vaalii Samajhate
Jo Na Baadah Khaar Hotaa

Offline सम्भवामी युगे युगे

  • "सबका भाई गुरु भाई"
  • Brigadier
  • *
  • Posts: 736
  • Karma: 19
  • Gender: Male
  • दूरदर्शी
Re: सदाबहार हिन्दी गाने
« Reply #29 on: March 30, 2009, 11:35:00 AM »
Aur doston ye hai meri pasand ka behtareen gana.

Devanand and Vaijayanthi Mala look like made for each other.

Also there is one unique thing to notice...

The saree of Vaijayanthi Mala... Pls have a look  :smiley32: :smiley32: :smiley32:

[youtube]okuWGDOugUI[/youtube]